Course Content
Other Hacking Types
White hat hacker- व्हाइट हैट हैकर्स को एथिकल हैकर्स के रूप में भी जाना जाता है। वे कभी भी किसी System को नुकसान नहीं पहुंचते हैं, बल्कि वे penetration testing and vulnerability assessments के एक भाग के रूप में कंप्यूटर या नेटवर्क System में कमजोरियों का पता लगाने की कोशिश करते हैं। एथिकल हैकिंग illegal नहीं है और यह IT industry में उपलब्ध मांग वाले नौकरियों में से एक है। कई कंपनियां हैं जो penetration testing and vulnerability assessments के लिए ethical hacker को hire करती है
0/8
Networking For ethical hacking
History of IP Address वर्तमान समय मे इंटरनेट की इस दुनिया मे दो IP Address का इस्तेमाल किया जाता है. IPv4 और IPv6. IP Address का मूल संस्करण 1983 में Arpanet द्वारा विकसित किया गया. IPv4 Address 32 बिट का होता है. जिसमें 4,297,967,296 एड्रेस स्पेस सीमित होता है. IPv4 में कुछ एड्रेस विशेष कार्यों के लिए Private Network (18 मिलियन और एक 1M= 10, 00,000) तथा Multicast Addressing (270 मिलियन एड्रेस) आरक्षित (Reserved) हैं. आमतौर पर IPv4 Dot-Decimal Notation के रूप में Present किया जाता है. जिसमें 4 गणीतिय अंक होते हैं, तथा प्रत्येक Range 0-255 तक बिंदुओ के रूप में विभाजित होता है. प्रत्येक भाग 8 Bits (Octet) का बना होता है. इंटरनेट प्रोटोकॉल के शुरुवाती दौर में नेटवर्क नंबर संख्या अधिकतम आठ होती थी. जिस विधि से केवल 256 नेटवर्क की अनुमति होती थी. परन्तु जल्द ही 1981 इस समस्या के समाधान के लिए स्वतंत्र तथा आधुनिक नेटवर्क IPv4 तैयार किया गया जो वर्तमान में भी उपयोग किया जाता है. परंतु समय के साथ बढ़ते इंटरनेट यूजर्स के कारण उपलब्ध IP Address में कमी के कारण 1995 में IP Address में 132 उपयोग कर नया डिज़ाइन दिया गया जिस सिस्टम को इंटरनेट प्रोटोकॉल 6 के नाम से जाना गया. IPv6 तकनीक को वर्ष 2000 तक विभिन्न Testing प्रक्रिया के दौर से गुजारा गया. जब कमर्शियल उत्पादन की शुरुआत हुई. वर्तमान समय में IPv4 तथा IPv6 दोनों का आधुनिक डिवाइस में उपयोग किया जाता है. दोनों IP Versions में तकनीकी बदलाव के कारण IP Address Formation में विभिन्नता देखी जा सकती है. IPv4 तथा IPv6 के बीच IPv5 1979 के Experiment Internet Protocol Stream पर आधारित था. हालांकि IPv5 को कभी भी लॉन्च नही किया गया.
0/9
Ethical Hacking course for beginner in Hindi
About Lesson

Miscellaneous Hackers

3 Hacker type कॆ आलावा भी कुछ hacker है उनके नाम हम यहां बता रहे है |

Red Hat Hackers

Red Hat Hacker फिर से ब्लैक हैट और व्हाइट हैट हैकर्स दोनों का मिश्रण हैं। वे आमतौर पर सरकारी एजेंसियों की हैकिंग, top-secret information hubs और आमतौर पर sensitive information की श्रेणी में आने वाले चीजों की चोरी करते है |

Blue Hat Hackers

ये वे हैकर होते है जो किसी सॉफ्टवेयर के launch होने से पहले उनमे कमी,Bug ढूंडते है |  Blue hat hacker ही Microsoft विंडो में vulnerabilities को ढूंढते है | माइक्रोसॉफ्ट इन्हे hire भी करते है |

Elite Hackers

ये वो हैकर होते है जो नई टेक्नोलॉजी, नई सॉफ्टवेयर ,नई स्क्रिप्ट ,अदि के बारे में सर्च करते है और उन्हें हैक करते है | इनके सामने नई हैकिंग की new challenge  हमेशा उनके सामने होती है |

Script Kiddie

ये हैकर नॉन एक्सपर्ट होते है जो किसी hacking टूल को किसी कंप्यूटर पर रन करके हैकिंग करते है | चुकी इन्हे हैकिंग की पूरी knowledge न होने पर पर ये किसी को नुकसान भी पहुंचाते है कभी ये  successfully hacking  को अंजाम भी देते है | इनके काम कुछ बच्चो जैसे होते है इसलिए इन्हे Script Kiddie  कहा गया |

Hacktivist

ये वो हैकर होते है जो किसी राजनितिक धार्मिक सामाजिक की पोल खोलते है ,नई टेक्नोलॉजी का उपयोग करके | जिसके लिए ये डार्क वेब क भी उपयोग करते | अगर हम आपको किसी एक हैकिंग अटैक के बारे में बातये तो Denial-of-service attack उनमें से एक है |

Exercise Files
No Attachment Found
No Attachment Found
0% Complete