UP Lekhpal Syllabus 2022 in Hindi Exam Pattern Details

यूपी लेखपाल परीक्षा को चार अलग – अलग भागों में बांटा गया है और सीधे तोर पे यह भी कह सकते है की यूपी लेखपाल लिखित परीक्षा में 4 विषय होंगे –

01. सामान्य हिंदी02. गणित
03. सामान्य ज्ञान04. ग्रामीण समाज एवं ग्रामीण विकास

Exam Pattern

  • Exam Duration – 90 Minutes
  • Total Questions – 100 MCQs
  • Negative Marking – 1/4 Marks for each wrong answer.
विषयप्रश्नों की संख्याअंक
सामान्य हिंदी2525
गणित2525
सामान्य ज्ञान2525
ग्रामीण समाज एवं ग्रामीण विकास2525

यूपी लेखपाल भर्ती 2022 आवेदन फॉर्म: Apply Online

Eligible aspirants can apply through UPSSSC PET 2021 Login Details. They Need to choose “Applicant’s Dashboard (Login Thru PET Reg.No.)” on UPSSSC Official website home page.

आवेदन के दो चरण है सबसे पहले व्यक्तिगत विवरण के साथ (Through Personal Details) और दूसरा OTP के माध्यम से। व्यक्तिगत विवरण के साथ अभ्यर्थी प्रारम्भिक अर्हता परीक्षा – 2021 के रजिस्ट्रेशन नंबर, जन्मतिथि, लिंग, उत्तर प्रदेश का मूल निवासी (domicile) और श्रेणी (Category) सम्बंधित जानकारी दर्ज कर आवेदन हेतु लॉगिन कर सकता है। दूसरा माध्यम OTP का है जिससे अभ्यर्थी प्रारम्भिक अर्हता परीक्षा 2021 के रजिस्ट्रेशन नंबर व रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी के माध्यम से OTP के द्वारा लॉगिन कर सकता है।

  1. सामान्य हिन्दी

समास, पर्यायवाची, विलोम, तत्सम एवं तद्भव, संधियां, वाक्यांशों के लिए एक शब्द निर्माण, लोकोक्तियां एवं मुहावरे, वाक्य संशोधन, लिंग, वचन, कारक, काल, वर्तनी, त्रुटि से सम्बन्धित, अनेकार्थी शब्द, अपठित गद्यांश पर आधारित प्रश्न।

  1. गणित

अंकगणित एवं सांख्यिकी

संख्या पद्धति, प्रतिशतता, लाभ-हानि, सांख्यिकी आंकड़ों का वर्गीकरण, बारम्बारता, बारम्बारता बंटन, सारणीयन, संचयी बारम्बारता। आंकड़ों का निरूपण, दण्ड चार्ट, पाई चार्ट, आयत चित्र, बारम्बारता बहुभुज। केन्द्रीय माप, समान्तर माध्य, माध्यिका एवं बहुलक।

बीजगणित

लघुत्तम समापवर्त्य एवं महत्तम समापवर्त्य और उनमें सम्बन्ध, युगपत समीकरण, द्विघात समीकरण, गुणन खंड, क्षेत्रफल प्रमेय। रेखागणित त्रिभुज सम्बन्धी पाइथागोरस प्रमेय, त्रिभुज, आयत, वर्ग, समलम्ब, समान्तर चतुर्भुज, समचतुर्भुज के परिमाप तथा क्षेत्रफल, वृत्त की परिधि एवं क्षेत्रफल।

3- सामान्य ज्ञान

सामान्य विज्ञान, राष्ट्र तथा अन्तर्राष्ट्रीय महत्व की सामयिक घटनाएं, भारत का इतिहास भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन, भारतीय राजव्यवस्था तथा अर्थव्यवस्था, विश्व भूगोल तथा जनसंख्या, सामान्य विज्ञान के प्रश्न, दैनिक अनुभव तथा प्रेक्षण से सम्बन्धित विषयों सहित विज्ञान के सामान्य प्रबोध एवं जानकारी पर होंगे, जिसकी किसी भी सुशिक्षित व्यक्ति से अपेक्षा की जा सकती है, जिसने किसी वैज्ञानिक विषय का अध्ययन नहीं किया हो।

भारत के इतिहास के अन्तर्गत आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक तथा राजनीतिक पक्षों की व्यापक जानकारी पर ध्यान देना होगा। भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन पर अभ्यर्थियों से भारतीय स्वतन्त्रता आन्दोलन की प्रकृति तथा विशेषता, राष्ट्रवाद का अभ्युदय तथा स्वतन्त्रता प्राप्ति के बारे में सामान्य ज्ञान अपेक्षित है। भारतीय राज व्यवस्था तथा अर्थव्यवस्था के अन्तर्गत भारतीय राज व्यवस्था, भारतीय संविधान, भारत की अर्थव्यवस्था तथा नियोजन के व्यापक लक्षणों की जानकारी पर प्रश्न होंगे।

विश्व भूगोल तथा जनसंख्या में केवल विषयों की सामान्य जानकारी की परख होगी जिसमें भारत के भूगोल में भौतिक/पारिस्थितिक, आर्थिक, सामाजिक, जनांकिकीय पक्षों पर विशेष बल दिया जाएगा। अभ्यर्थियों से उपरोक्त की सामान्य जानकारी अभिज्ञा विशेषत: उत्तर प्रदेश के परिप्रेक्ष्य में अपेक्षित है।

कम्प्यूटर के प्रारम्भिक ज्ञान से सम्बन्धित प्रश्न होंगे।

4- ग्राम्य समाज एवं विकास

ग्राम्य विकास भारतीय संदर्भ में, ग्राम्य विकास कार्यक्रम, ग्राम्य विकास योजनाएं एवं प्रबन्धन, ग्राम्य विकास शोध प्रणालियां, ग्रामीण स्वास्थ्य योजनाएं, ग्रामीण सामाजिक विकास, ग्राम्य विकास और भूमि सुधार, त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था, केंद्र व राज्य सरकार की ग्राम्य विकास से सम्बन्धित योजनाएं।

 

Leave a Comment